SBI नेट बैंकिंग: SBI नेट बैंकिंग लॉक / अनलॉक कर सकते हैं, जानिए पूरी प्रक्रिया

SBI नेट बैंकिंग लॉक

SBI नेट बैंकिंग लॉक बदलते समय में इंटरनेट का उपयोग आसान हो गया है। यदि आप बैंकिंग क्षेत्र में इसका लाभ देखते हैं, तो इंटरनेट बैंकिंग के साथ बहुत सारे काम सुलभ हो गए हैं। बता दें कि ज्यादातर बैंकिंग सुविधाएं 24×7 के तहत काम करती हैं। बैंकिंग सेवा में इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से फंड ट्रांसफर, बिल भुगतान, सावधि जमा (एफडी) खोलना बहुत आसान हो गया है। यदि आप भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के बारे में बात करते हैं, तो इस बैंक का लाभ उठाने वाले ग्राहक नेट बैंकिंग को लॉक और अनलॉक कर सकते हैं। नेट बैंकिंग अकाउंट लॉक करने से अकाउंट डिसेबल हो जाएगा। बैंक के अनुसार, यह सुविधा केवल खुदरा उपयोगकर्ताओं के लिए है, कॉर्पोरेट उपयोगकर्ता इस सुविधा का लाभ नहीं उठा सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा को कैसे रोका जाए

बैंक की वेबसाइट पर जाएं

  • Www.onlinesbi.com पर जाएं। ‘लॉक और अनलॉक उपयोगकर्ता’ के लिए खोजें।
  • ‘लॉक एंड अनलॉक यूजर’ पर क्लिक करें।
  • एक नयी विंडो खुलेगी। ड्रॉप डाउन मेनू से, ‘लॉक यूजर एक्सेस’ विकल्प चुनें।
  • अब, अपना विवरण जैसे इंटरनेट बैंकिंग उपयोगकर्ता नाम, खाता संख्या और कैप्चा कोड दर्ज करें।
  • अब एक नया पॉप-अप विंडो खुलेगा।
  • विवरण सबमिट करने के बाद एक नया पॉप-अप खुलेगा। इसमें तीन बिंदु दिखाए जाएंगे।
  • पहला- अगर आपको लगता है कि आपके खाते में कोई अनधिकृत पहुंच / लेन-देन हो रहा है, तो आप अपनी इंटरनेट एक्सेस को लॉक कर सकते हैं।
  • दूसरा- उपयोगकर्ता द्वारा निर्धारित कोई भी लेन-देन और स्थायी निर्देश सक्रिय होंगे और इन प्रक्रियाओं में कोई बदलाव नहीं होगा।
  • तीसरा, ओके पर क्लिक करने से आपकी इंटरनेट एक्सेस लॉक हो जाएगी और आप कोई भी इंटरनेट बैंकिंग लेनदेन नहीं कर पाएंगे।
  • इन सबके बाद आपको OK पर क्लिक करना है। अब एक OTP (वन-टाइम पासवर्ड) पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल-आईडी पर जाएगा। यदि संयुक्त खाता है, तो ओटीपी प्राथमिक खाता धारक के मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा।

ओटीपी डालते ही आपका इंटरनेट बैंकिंग लॉक हो जाएगा।

अलविदा 2019: प्याज के आंसू, शेयर बाजार ने रिकॉर्ड बनाया

अब अपनी इंटरनेट बैंकिंग सुविधा को अनलॉक करने की प्रक्रिया को जानें

  • सबसे पहले आपको बैंक की वेबसाइट www.onlinesbi.com पर जाना होगा। यहां पहुंचने के बाद, ‘लॉक एंड अनलॉक यूजर्स’ के विकल्प को खोजें।
  • ‘लॉक एंड अनलॉक यूजर’ विकल्प चुनें। एक नयी विंडो खुलेगी। ड्रॉप डाउन मेनू से ‘अनलॉक यूजर एक्सेस’ चुनें। उसके बाद, अपना विवरण दर्ज करें जैसे कि इंटरनेट बैंकिंग उपयोगकर्ता नाम, खाता संख्या और कैप्चा कोड।
  • आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर एक ओटीपी भेजा जाएगा।
  • अब वेबसाइट आपसे पूछेगी कि क्या आप ‘बैंकिंग पासवर्ड के जरिए’ या ‘होम ब्रांच के जरिए’ इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस अनलॉक करना चाहते हैं।
  • चुने गए ‘प्रोफाइल पासवर्ड विकल्प’ के माध्यम से प्रोफाइल पासवर्ड डालें और सबमिट पर क्लिक करें।
  • अगर आप बैंक शाखा के माध्यम से अपने इंटरनेट बैंकिंग को अनलॉक करना चाहते हैं, तो आपको अपनी होम ब्रांच में जाना होगा।
  • प्रोफाइल पासवर्ड डालने के बाद आपका इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस अनलॉक हो जाएगा।

अटलजी की 95 वीं जयंती / मोदी ने अटल भूजल योजना शुरू की, 7 राज्यों के 8350 गांवों को लाभ होगा

Open chat